Akshya Tritiya Date 2022 – अक्षय तृतीया पूरा जानकारी, पूजा मुहूर्त, पूजा बिधि

Akshya Tritiya Date 2022 - अक्षय तृतीया पूरा जानकारी, पूजा मुहूर्त, पूजा बिधि

Akshya Tritiya Date 2022 – अक्षय तृतीया पूरा जानकारी, पूजा मुहूर्त, पूजा बिधि

Akshya Tritiya Date 2022 – साल के सबसे खास दिन अक्षय तृतीया इस बार ३ मई २०२२ को मनाये जाएगी। आप सभी को पता ही होगा ये पर्व बिसेस त्योहारों में एक है। बैशाख माह के शुक्ला पक्ष के तृतीया को अक्षय तृतीया और आखा तीज के नाम से भी जाना जाता है।

आप सभी को पता होगा अक्षय का मतलब जो कभी क्षय न होने वाला और इस दिन किये गए शुभ कार्य का फल कभी नस्ट न होने वाला है। इस दिन किये गए शुभ काम स्नान, दान, पूजा, जप-तप का फल कभी नष्ट नहीं होगा। ऐसे तो आजकाल सोने चांदी की खरीदारी करने की रीती ज्यादा बढ़ गयी है। मगर आप खरीदने से अच्छा अगर दान और भगवान की पूजा करेंगे तो इस का परिणाम आपको ज्यादा अच्छा मिलेगा।

See also  iOS 16 विश लिस्ट: नए iPhone फीचर्स हमें उम्मीद है कि Apple WWDC में डेब्यू करेगा

 

आर्थिक संकट से मुक्ति के उपाय के लिए हनुमान चालीसा – Aarthik Sankat Se Mukti ke Upay

 

Akshya Tritiya Puja Timings – अक्षय तृतीया पूजा मुहूर्त

आज में आपको २०२२ के अक्षय तृतीया जो की ३ मई मंगलबार को पालन की जा रही है उस दिन पूजा और दान करने शुभ मुहूर्त और बिधि के बारेमे बताने जा रहा हु।  इस बार अक्षय तृतीया ३ मई २०२२ को  सुबह  ५:१८ मिनट में सुरु होगा और ४ मई सुबह ७:३२ मिनट में ख़तम होगा।  और आपके लिए पूजा करने का सबसे उत्तम मुहूर्त ३ मई को सुबह ५:३९ मिनट से दोपहर १२:१८ मिनट तक का समय रहेगा।

अक्षय तृतीया 2022 कब | Akshaya Tritiya 2022 Date And Time | Akha Teej 2022 | Akshaya Tritiya 2022

 

Akshya Tririya ke Khas Baat – इस बार क्यों खास है अक्षय तृतीया

इस बार की अक्षय तृतीया के दिन शुक्र आपने उच्च  राशि में रहने से मालब्य योग, गुरु मीन राशि में रहने से हंस राज योग और शनि अपने ही राशि में रहने से सश राज योग बन रहा है।  इतना ही नहीं सूर्य और चन्द्रमा भी इस दिन अपने उच्च राशि में रहेंगे जिस के कारण इस बार ५० साल के बाद ऐसा सुबह मुहूर्त बनने जा रहा है इस लिए भी इस दिन पूजा पाठ और दान धर्म करना बहुत लाभदायी साबित होगा।

Akshya Tritiya Puja Kaise Kare – अक्षय तृतीया के पूजा विधि

अक्षय तृतीया के दिन सुबह ब्रम्ह मुहूर्त (सूर्योदय से पहले ) में उठकर अपना नित्य कर्म करके में जो बिसेस मुहूर्त बताया हे उसी समय में पूजा करना सुरु करे।  आप आपके पूजा स्थान में भगवान नारायण और माता लक्ष्मी की फोटो या मूर्ति को गंगा जल या पंचामृत से सुद्ध करके स्थापन  कीजिये।  आप भगवान बिष्णु को पिले फूल और तुलसी के माला और माता लक्ष्मी को सफ़ेद फूल के माला अर्पण कीजिय।  धुप दिप जलाकर आप बिष्णु सहस्रनाम और माता लक्समी स्तुति या पाठ कीजिये । आप भगवान को जौ, गम, सत्तू या चने के दाल के नैवेध लगाइये।

See also  सीबीएसई 12वीं का रिजल्ट 2022 अगले हफ्ते 15 जुलाई तक: रिपोर्ट

Akshya Tritiya ke Din Kya Kare – अक्षय तृतीया के दिन जरूर करे ये काम

पूजा ख़तम होने के बाद आप किसी ब्राह्मण या कोई गरीब या किसी अनाथ को भोजन, बस्त्र, जल से भरे घड़े, चावल, चीनी, घी जैसे का दान कीजिये।  और फिर देखना आपको पुरे साल भगवान का कृपा मिलते रहेंगे। अक्षय तृतीया के दिन अगर कोई जरूरतमंद आपके घर पर आये उसे खाली हाट न लौटाए।  शास्त्रों के माने तो इस दिन किये गए दान का लाभ आपको कई जन्मो तक मिलता रहेगा।   इस दिन भगवन परशुराम का भी जनम हुआ था तो आप इनकी भी पूजा कर सकते हो।

Akshya Tritiya me Kya Na Kare – अक्षय तृतीया दिन भूल कर भी ना करे ये काम

तुलसी भगवान बिष्णु की बेहत प्रिय है और इस दिन बिना स्नान किये आप तुलसी के पत्ते को न तोड़े और हो सके तो स्नान किये बिना आप तुलसी को हात मत दीजिये।  इस दिन आप अच्छे नियतो से और सच्चे मन कोई भी सुभ कार्य कर सकते हो लेकिन कोई भी बुरा काम करना तो दूर बुरे सोचना, दुसरो की अहित के बारे मे सोचना भी नहीं चाइये नहीं तो आपको इसका बहुत नकारात्मक फल मिलेंगे|

अक्षय तृतीया विशेष मंत्र || महत्व, तारीख और पूरी जानकारी || By Hindi Spiritual

1 thought on “Akshya Tritiya Date 2022 – अक्षय तृतीया पूरा जानकारी, पूजा मुहूर्त, पूजा बिधि”

  1. Pingback: अक्षय तृतीया २०२२ कब - अक्षय तृतीया पर भुल करके भी न करे यह गलती | Akshaya Tritiya 2022 Date & Time

Comments are closed.